अनजान लड़की के साथ हसीं रातें

Haseen Raaten Anjan ladki ke Sath सभी पाठकों को पसंद आई थी. अब मैंने अपनी नई कहानी आपके आगे रख रहा हूँ, उम्मीद है कि मेरा यह यादगार लम्हा आपके लिए भी अच्छा दिन या फिर अच्छी रात साबित होगी, इस घटना को पढ़ कर आपकी कामुकता जागृत होगी तो उसके बाद आप अपने साथी से मजेदार सेक्स का मजा ले पायेंगे.

बात तब की है जब मैं हरियाणा के एक बड़े शहर के होटल में किसी काम से ठहरा हुआ था और मेरे किसी दोस्त ने उसी शहर में एक सुंदर कॉल गर्ल अनु के बारे में बताया था। मैं तो कब से हरियाणा में अपने लण्ड की प्यास बुझाना चाहता था और मौके की तलाश में था।
खैर मेरे दोस्त ने मुझे उसका नम्बर दिया और बताया कि वह बहुत कम चुदी है और उसकी चुदाई में बहुत मजा आएगा। मैंने उसको फ़ोन मिलाया और उसे होटल के पास जगह समझा कर बुलाया।

होटल के पास एक मुख्य चौक था, मैं भी वहीं पर पहुँच कर उसका इंतजार करने लगा। वहां पर कई लड़कियां थी जो एक से बढ़ कर सुन्दर और कयामत लग रही थी। सभी अपने काम से इधर उधर आ जा रही थीं।
मैं उन लड़कियों को देख कर अंदर से उत्तेजित हो रहा था और इसी वजह से मेरा लण्ड भी कड़क होने लगा था। मैं अब पास ही एक बेंच पर बैठ गया और दोस्त की बताई हुई लड़की के मिलने का इंतजार करने लगा।

लगभग आधे घण्टे बाद एक लड़की जो बिल्कुल एक मॉडल की तरह लग रही थी, मेरे पास आई और मुझसे मेरा नाम पूछा तो मैंने उसे अपना नाम बता दिया और ठहरने की जगह पूछने पर उसे अपना होटल बताया।
वह बहुत खुश हुई और मेरे साथ होटल जाने के लिए राजी हो गयी।

वह लड़की ऊपर से नीचे तक कयामत लग रही थी; अप्सरा के जैसा प्यारा चेहरा, मध्यम आकार के उसके फूले हुए नोकदार चुचे, मोहक पतली कमर और फूल सी नाजुक बदन की मालकिन।
मैं उसे अपने होटल के कमरे में ले गया और खाने के बारे में पूछा तो उसने मेरी मर्जी पर छोड़ दिया।

मैंने उसे कहा- यार, पहले ड्रिंक करेंगे फिर…
तो उसने कहा- जैसा आपको ठीक लगे।
मैंने शराब की एक बोतल और सोडा साथ में सलाद, नमकीन और पापड़ मंगा लिए।

तब तक हम दोनों एक दूसरे से मजाक कर रहे थे, एक दूसरे के हाथों को पकड़ कर सहला रहे थे और जोर से हंस रहे थे।
थोड़ी देर बाद वह लड़की फ्रेश होने के लिए बाथरूम में चली गई।

मेरे फ़ोन में 2 मैसेज एक साथ आये मैंने मैसेज खोला तो दोनों ही उस लड़की अनु के थे और आज न आने के लिए सॉरी लिखा था, लिखा था- सॉरी डियर, आज नहीं आ पाऊँगी, फिर कभी मिलेंगे।

मेरा दिमाग चकरा गया और मैं सोचने लगा कि अगर वो लड़की नहीं आयी तो फिर ये कौन है और मुझे कैसे पहचानती है।
वो लड़की बाथरूम में थी और उसका फ़ोन बाहर था, मैंने उस फ़ोन को खोला उसका नाम मधु था। मेरा दिल डर से धड़कने लगा कि जिसे मैने बुलाया था उसका नाम अनु था।

अब मैं उसके फ़ोन के मैसेज खोल कर देखने लगा तो मैंने पाया एक मैसेज किसी सेक्सी डेटिंग साइट का था जिसमें एक लड़के का नाम और जगह बताई थी। नाम पढ़ते ही मैं तो ख़ुशी से नाचने लगा क्योंकि यही नाम तो मेरा भी था और जगह किसी दूसरे चौक का था जो कि लगभग एक जैसा था और एक से नाम वाली जगह की वजह से वो इस चौक पर आ गई और मुझे कुछ देर तक इंतजार करते हुए देख कर मेरे पास आई.
और संयोग से नाम भी एक ही था तो मेरे तो जैसे अच्छे पल थे या यूँ कहें अच्छे दिन आ गए थे।

फिर मैंने उस लड़के के मैसेज भी पढ़े जो कुछ देर पहले ही उसके फ़ोन पर आये थे और मैसेज साइलेंट मोड पर होने की वजह से उसने उनको नहीं पढ़ा था।
एक मैसेज में लिखा था- 1 घण्टे से इंतजार कर रहा हूँ।
दूसरे में लिखा था- अब आ भी जाओ।
और तीसरे में लिखा था जो आधे घंटे बाद आया था- मैं जा रहा हूँ, भाड़ में जा।

मुझे एक आइडिया आया और मैंने उस लड़के के सारे मैसेज डिलीट कर दिए, उसका नंबर बदल कर अपना नम्बर लिखकर सेव किया और उस लड़के का नंबर ब्लॉक लिस्ट में डाल दिया। साथ ही उस लड़की का नंबर अपने फ़ोन पर भी सेव कर लिया और उसका फोन उसी जगह पर रख दिया जहां पहले था।

दरवाजे पर दस्तक हुई और वेटर हमारा आर्डर लेकर आ गया।
मैं शराब की बोतल खोल कर अपने और उस लड़की मधु के लिए पैग बनाने लगा।

मधु भी अब टॉयलेट से बाहर आ गई और शराब देख कर बोली- यार, तुम मुझे गलत मत समझ लेना कि मैं पहली ही मुलाकात में तुमसे इतना घुलमिल गई जैसे कि कितने समय से साथ हैं लेकिन सच यह है कि मेरा कोई भी बॉयफ्रेंड नहीं है और मेरी पहचान के लड़के, रिश्तेदारों के लड़के मुझे घूरते हैं, वे सिर्फ मेरे जिस्म को मसलना चाहते हैं, मेरे हर अंग को बेदर्दी से अपने अंग से रगड़ना चाहते हैं. सब मुझे अपनी वासना पूर्ति का साधन बनाना चाहते हैं. लेकिन जान पहचान वाले लड़के मेरे जिस्म से खेल कर मुझे बदनाम भी करेंगे. इधर उधर कहेंगे कि मैंने उस लड़की के साथ सेक्स किया है. बदनामी से मैं बुरी तरह डरती हूँ. लेकिन यह भी सच है कि मेरी जवानी की मांग है कि मुझे भी सेक्स करना है, सेक्स का मजा लेना है. अब अच्छे लड़के बहुत ही मुश्किल से मिलेंगे। तो मैंने सोचा कि किसी अनजान लड़के से सेक्स करके अपनी वासना शांत कर लूं, वो मुझे बदनाम तो नहीं करेगा. इसलिए मैंने इस सेक्स डेटिंग साइट से तुमसे बात की और तभी मैंने अपने मन में यह पक्का कर लिया कि मैं अब तुम्हें अपना सब कुछ देकर सेक्स का मजा लूंगी! मुझे अपने पहले सेक्स का यह पल एक यादगार रखना है इसलिए मैं इसके लिए तुम्हारे साथ शराब भी पीने को तैयार हूँ जबकि मैंने आज तक शराब नहीं पी है।

Pages: 1 2 3

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

4 × 4 =