बीवी, बहन और कमसिन साली मेरी चुदाई का संसार

सोनल- वैसे भी भाई, सबसे पहले आपने दिशा की सील तोड़ी थी.
मैं- सोनल मुझे भी तुमको चोदने में बहुत मजा आया. मैंने कभी सपने में भी नहीं सोचा था कि मैं अपनी सुंदर हॉट बहन को चोद पाऊंगा.
राधिका- इसका क्रेडिट मुझे जाता है, मेरी वजह से आज तुम दो हॉट अप्सराएं चोदने को मिली हैं.
मैं- धन्यवाद डार्लिंग, इसके लिए अभी सबसे पहले मैं तुमको चोदूंगा.

फिर हम चारों मुस्कराते हुए खाना खाने लगे. चारों ने खाना खत्म किया और हाथ धोकर मैं राधिका को अपने साथ उठाकर अपने कमरे में ले गया.

हम दोनों फिर से एक-दूसरे से किस करने लगे, जिससे हमारे अन्दर की वासना जाग उठी. इस बीच राधिका ने पहले मेरी टी-शर्ट निकाल दी. मैंने भी उसके मम्मों पर हाथ घुमाकर उसकी टी-शर्ट निकाल दी. उसके बाद मैं राधिका को किस करते हुए उसकी लचकदार गांड पर हाथ से सहलाने लगा.

दो-तीन मिनट बाद मैंने राधिका को घुमा दिया और उसकी ब्रा का हुक खोलकर ब्रा को निकाल दिया. फिर उसके कातिलाना मम्मों को दबाने लगा, जिससे राधिका मदहोश होने लगी. मैं मजे से उसके मम्मे मसले जा रहा था.

राधिका के दोनों हाथ मेरे हाथ पर आ गए और वो अपने मम्मों को मसलवाने का मजा लेते हुए बीच-बीच में अपनी आंखों को बंद कर ले रही थी.

राधिका को बहुत ज्यादा मदहोशी की हालत में देखकर मेरा लंड उसकी गांड को छू रहा था. मैंने राधिका को घुमाकर घुटने के बल बैठने का इशारा किया. राधिका समझ गई और वो घुटने के बल बैठ कर मेरा लोअर निकालकर लंड हाथ में लेकर कर लॉलीपॉप की तरह चूसने लगी.
इससे मेरे मुँह से आवाज निकलने लगी- ओह राधिका कम ऑन … आह और चूसो मेरी जान … आह ओह आह अह.

मैंने राधिका के बाल पकड़कर उसके मुँह को चोदना चालू कर दिया. करीबन पांच मिनट बाद जब मुझसे बर्दाश्त नहीं हुआ, तब मैंने राधिका को उठाकर बेड पर पटक दिया. फिर अपनी पेन्ट और उसकी पेन्टी निकाल फेंकी. इसके बाद मैं उसके ऊपर चढ़ गया और उसे किस करने लगा. मैं कभी उसके मम्मों को मसलता, कभी उसके होंठों को चूसता.

मैं राधिका के पूरे शरीर पर चूम रहा था, इस दौरान मैंने उसकी गर्दन पर लवबाइट भी किये. फिर नीचे को आते हुए मैं राधिका की गीली चुत को चाटने लगा. राधिका ने अपनी चूत पर मेरी जुबान पाते ही सीत्कार भरना शुरू कर दिया.
राधिका- ओह राज, आह कम ऑन फक मी … आह राज चोद डाल … लाल कर दे अपनी बीवी की चुत को … चोद डाल अब बर्दाश्त नहीं हो रहा है.

यह सुनकर मैंने अपना लंड उसकी चूत पर सैट कर दिया. छेद से मिलन होते ही मैंने लंड को इजाजत दे दी और एक जोर सा झटका मारता हुआ राधिका की चूत में मेरा पूरा लंड पेवस्त हो गया. इससे राधिका के मुँह से हल्की चीख निकल गई.

फिर मैं राधिका की ताबड़तोड़ चुदाई करने लगा, जिससे वो भी मजा लेते हुए जोर जोर से सिस्कारियां भरने लगी. राधिका ने मेरी पीठ पकड़ ली थी और वो गांड उठा कर अपनी चूत में लंड लेने लगी थी.

तभी सोनल और दिशा भी कमरे में आ गईं. मैं राधिका को पेलते हुए उन दोनों से बोला- चलो कपड़े निकाल कर तैयार रहना … जल्द ही तुम दोनों का नंबर आएगा.

मेरी बात सुनकर उन दोनों ने अपने कपड़े निकाल दिए. मैं राधिका की तरफ देखकर उसे चोदने लगा. कुछ ही देर में हम दोनों एक साथ में ही झड़ गए. मैंने अपना गर्म लावा उसकी चुत में डाल दिया.

एक पल रुकने के बाद मैं नंगी खड़ी दिशा के पास आ गया. मैंने उसको घुटने के बल बैठकर अपना लंड चूसने को कहा. साथ ही सोनल को किस करते हुए उसके नग्न मम्मों को दबाने लगा.

दिशा मजे से मेरे लंड की चुसाई करने लगी थी. इससे मेरा लंड फिर से चुदाई के लिए तैयार हो उठा था.

अब मैंने दिशा को खड़ा करके बेड पर लेटा दिया. राधिका अपनी चूत सहलाते हुए कमरे से बाहर चली गई थी. मैं कामवासना को लम्बे समय तक चलाने वाली गोली लेकर दिशा के ऊपर चढ़ गया. मैं उसे किस करने लगा, सोनल कुर्सी पर बैठकर हमें देखते हुए अपने मम्मों को मसल रही थी.

तभी राधिका नंगी ही कमरे में आई. वो ठंडी बियर की बोतलें लेकर आई थी. उसने बियर की बोतलें सबको दीं. हम चारों एक साथ चियर्स करते हुए एक बियर के घूंट मारने लगे.

फिर मैंने दिशा को लेटाकर बिना देरी किये अपना लंड एक जोरदार धक्के के साथ घुसेड़ दिया … जिससे दिशा कराह उठी. मैंने तेज धक्कों के साथ उसे चोदना चालू कर दिया. उधर राधिका और सोनल दोनों लेस्बियन किस करने लगी थीं. सोनल के हाथ में सिगरेट फंसी थी, जिसे वो बड़े मजे से पीते हुए राधिका के मम्मों पर फूंक रही थी.

मैं इतने जोर के धक्के से मार रहा था कि दिशा मेरे लंड के नीचे दबे दबे बोल रही थी- जीजाजी धीमे चोदिए, दर्द हो रहा है … आह ओह जीजाजी, यू आर सो हार्ड.
दिशा के तड़पने से मैं और जोर से चोदने लगा. करीबन बीस मिनट बाद मैं थक गया और अपना लंड बाहर निकालकर दिशा के पास लेट गया.

तभी सोनल अपनी गांड मटकाते हुए मेरे पास आकर मेरा लंड चूसने लगी. जिससे मुझे बहुत अच्छा लग रहा था. मैंने उसके हाथ से सिगरेट लेकर दो कश खींचे और अपने लंड की चुसाई का मजा लेने लगा. उधर दिशा अपनी चुत में उंगली कर रही थी.

Pages: 1 2 3

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *