चचेरी बहन को अकेले चोदा

लेकिन जब बार – बार मैं जोर देने लगा तो बाद में उसने लन्ड को मुंह में ले लिया और फिर उसे लॉलीपॉप की तरह मस्ती में चूसने लगी. जिससे मेरे मुंह से ‘सी सी अ अ आह आह, मोनू जोर से और जोर से आह बहन की लौंड़ी जोर से और जोर से चूस. इसे अपने मुंह में पुरा ले जा. आह आह’ और इस तरह की मस्त लन्ड चुसाई के 10 -12 मिनट बाद मैं झडने वाला था…

अन्तर्वासना के सभी प्यारे पाठकों और पाठिकाओं को मेरा चुदाई भरा नमस्कार! दोस्तों, मेरा नाम मान है और मैं इस हिंदी सेक्स स्टोरी की इस अलबेली साईट की कहानियों को पिछले पांच सालों से लगातार पढ़ता आ रहा हूँ. इन्हीं को पढ़ कर मैंने भी सोचा कि क्यों ना मैं भी अपनी स्टोरी आप सब के साथ शेयर करूँ.

दोस्तों, मेरा नाम अमित है और मैं हरियाणा का रहने वाला हूँ. मेरी उम्र 19 साल है और मेरी हाईट करीब 6 फुट है. मेरी ये कहानी मेरी और मेरे अंकल की एक लड़की है. मेरे अंकल की उस लड़की का नाम मोनू (बदला हुआ नाम) है.

दोस्तों, वो देखने में बहुत ही खूबसूरत है. वह मुझसे एक साल छोटी है और हम दोनों एक ही स्कूल में पढाई करते हैं और दोनों साथ में ही आते – जाते हैं. हम जवानी की दहलीज पर कदम रख रहे हैं. मेरी बहन का बदन बहुत ही गरम है. उसका फिगर ऐसा है कि उसकी चूची और गांड को देख कर तो किसी का भी लंड खडा हो जाए.

तो अब आप लोगों का ज्यादा वक्त न खराब करते हुए सीधा अपनी कहानी पर आते हैं. एक दिन मेरे अंकल को पूरे परिवार सहित किसी रिश्तेदार की शादी में जाना था. तो उस दिन मोनू घर पर अकेली ही रहने वाली थीे तो मेरे अंकल ने मुझ से कहा कि मोनू आज रात को तू मोनू के पास सो जाना. तो मैंने हाँ कह दिया. इसके बाद निश्चिंत हो कर वे शादी में चले गये.

फिर रात में मैं सोने के लिए अंकल के घर गया. तो मोनू ने मेरे लिए एक बिस्तर लगा दिया और खुद अपने कमरे में सोने चली गई उसके जाने के बाद मैंने अन्तर्वासना की साईट खोली और बहन भाई वाली कहानी देखने लगा. इस दौरान मुझे पता भी नहीं चला कि मेरा हाथ कब मेरे लंड पर चला गया और मैं अपने लन्ड को सहलाने लगा.

तभी मेरा ध्यान दरवाजे पर गया तो मैंने देखा कि मोनू मुझे देख कर अपनी चूत को सहला रही थी. उसे देख कर मेरी तो फट ही गई थी लेकिन जब मैंने मोनू को देखा तो मेरे लंड को खड़ा होना ही पडा क्योंकि अब वो अपने कपड़े निकाल रही थी.

ये देख कर मैंने भी हिम्मत की और खड़ा हो गया और फिर उसके पास जाकर मैं उसको किस करने लगा. एक जबरदस्त किस.

ये हम दोनों के लिए पहला सेक्स था तो हम दोनों ने एक – दूसरे 10-15 मिनट तक लगातार किस किया. उसके बाद मैंने उसे अपनी गोद में उठाया और फिर मैं उसे बिस्तर पर ले गया. उसके बाद उसने मेरे भी कपड़े उतार दिए. फिर मैंने उसको मेरा लंड उसके मुंह में लेने के लिए कहा तो वो मना करने लगी.

लेकिन जब बार – बार मैं जोर देने लगा तो बाद में उसने लन्ड को मुंह में ले लिया और फिर उसे लॉलीपॉप की तरह मस्ती में चूसने लगी. जिससे मेरे मुंह से ‘सी सी अ अ आह आह, मोनू जोर से और जोर से आह बहन की लौंड़ी जोर से और जोर से चूस. इसे अपने मुंह में पुरा ले जा. आह आह’ और इस तरह की मस्त लन्ड चुसाई के 10 -12 मिनट बाद मैं झडने वाला था.

अब जब मैंने उसको बताया कि मैं आने वाला हूँ तो वो बोली कि मैं इसको पीने चाहती हूँ इसलिए मुंह में ही आ जाओ. इतना कह कर वो लन्ड को और जोर से चूसने लगी. फिर करीब 30 सेकंड के बाद मैं उसके मुंह में ही झड़ गया. मेरे लन्ड से काफी पानी निकला जिसे वो पूरा पी गई.

उसके बाद फिर मैं थोड़ी देर के लिए ढीला पड़ गया और फिर मैंने उसके चूचे दबाना शुरू किया. दूसरी तरफ वो मेरा लंड खडा करने में पूरे जोर – शोर से लग गई. उसके बाद हम दोनों 69 वाली पोजीसन में आ गऐ और 15-20 मिनट तक एक – दूसरे को चुसते रहे.

उसके बाद हम दोनों ने एक सेक्सी मूवी लगाई और फिर उस मूवी को देखते हुए मैंने उसको चोदना शुरू किया. पहले मैंने उसकी गांड के नीचे तकिया लगाया और फिर उसकी चूत पर अपना लंड रखा और धक्का देने लगा. लेकिन लन्ड अंदर ही नहीं जा रहा था.

फिर मैंने उसकी चूत और मेरे लंड पर थोड़ा सा तेल लगाया और फिर कोशिश की लेकिन अभी लंड थोड़ा ही अंदर गया था कि मैंने उसके होंठों पर अपने होंठ रखे और एक जोर का धक्का लगाया. जिससे मेरा पूरा लंड उसकी चूत में चला गया और फिर मैंने देखा कि मोनू की आखों में आंसू आ रहे थे और उसकी चूत सेे खून निकल रहा था.

अब मैं थोड़ी देर तक उसके होंठों को ही चूसता रहा और फिर 5-7 मिनट बाद मोनू भी मेरा साथ देने लगी और फिर मैं आराम से लंड को चूत के अंदर – बाहर करने लगा. करीब 20-25 बार अंदर – बाहर करने के बाद मोनू भी मेरा साथ देने लगी और वो खुद ही कहने लगी कि और जोर से चोद मुझे आज मुझे अपनी बना ले, मेरी चूत का भोसड़ा बना दे, जोर से चोद मुझे और जोर से.

Pages: 1 2

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *