मेरी कुवारी चूत की पहली चुदाई 5 इंच के लंड से

मैंने उसके लंड को हिलाया. और वो अपने शर्ट के बटन खोलने लगा. कुछ देर में वो पूरा नंगा हो गया. फिर मेरी सलवार का नाडा पकड़ के उसने खिंचा. मेरी सलवार के बाद पेंटी को और फिर ऊपर के कपडे भी उसने निकाल दिए. मुझे बेड में लिटा के वो टाँगे चौड़ी कर के मेरी चूत को ऊँगली से सहलाने लगा. मैंने भी उसके लंड को पकड़ के हिलाना चालू कर दिया. वो अह्ह्ह अह्ह्ह कर रहा था.

मैंने उसे कहा, तूने पहले किया हे?

वो बोला, हां मेरी बड़ी बहन को चोदता हूँ मैं.

मैंने कहा, ये तो गलत हे न.

वो बोला, वो बहार के लंड लेती फिरे इस से अच्छा मैं अभी से उसे अपने लंड किया आदत लगा रहा हूँ.

मैंने सिर्फ हंस दिया.

वो बोला, दीदी आप म,मेरा लंड चुसो ना.

मैंने कहा आजा.

फिर वो मेरे साथ ६९ पोस में आ गया. मैंने उसके लंड को आइसक्रीम की कैंडी के जैसे पूरा मुहं में ले लिया. ५ इंच के लंड को चूसने में कोई तकलीफ नहीं हुई मुझे. मैंने सेक्स नहीं किया था लेकिन पोर्न मुविस तो काफी देखी थी.

मैंने उसके सुपाडे के ऊपर किस किया और उसके लंड को मुठी के अंदर दबा दिया. दुसरे पासे वो मेरे चूत के दाने को पहले ऊँगली से टच करने लगा. मेरे अन्दर ऐसा सेक्स उभर आया चूत के दाने का टच होते ही की क्या कहूँ. वो फिर मेरे चूत के दाने के साथ साथ फांको को प्यार करने लगा. मैं लंड पूरा मुहं में लेती थी और फिर बहार निकाल के उसे हिलाती थी. और वो अब मेरी छेद के अन्दर एक ऊँगली को डाल के फिंगर फक कर रहा था. और साथ में चाट भी रहा था. मैं सच में एकदम सेक्सी फिल कर रही थी. इस छोटे लड़के को सेक्स का इतना ज्ञान होगा उसका मुझे कतई अंदाजा नहीं था. वो अब चूत में दो ऊँगली डाल के हिला रहा था. मैं बोली, अह्ह्ह्हह दर्द हो रहा हे सतीश.

वो बोला, दीदी क्या आप वर्जिन हो?

मैंने कहा, हां!

उसके चहरे के ऊपर जंग जितने वाले भाव आ गए, और वो मेरी चूत में वापस अपने मुहं को घुसेड के अब और भी प्यार और जतन से चाटने लगा. मैंने भी लौड़े को पकड के हिलाया और उसके ऊपर निकलती प्री-कम की बूंदों को चाट गई. उसका प्री-कम खारा और एसिडिक था. सतीश ने कुछ देर और चूत चाटी और फिर वो उठ गया. मेरी टांगो को फैला के उसने कहा, दीदी आप रेडी हो ना?

मैंने कहा हां डाल दो. उसने लंड को चूत पर लगाया और एक धक्का लगाया. जैसे मैंने कहा उसका लंड ५ इंच लम्बा और चौड़ाई में सिर्फ २ इंच जितना था. आराम से घुस गया अन्दर. वो मेरे बूब्स को चूसते हुए झटके देने लगा. उसका लंड मेरी चूत में पच पच की साउंड से अन्दर बहार होने लगा था. और वो कभी उधर तो कभी उधर पप्पी देते हुए मुझे चोदता रहा. ५ मिनिट की चुदाई में ही उसका वीर्य निकल आया. मेरी ये पहली चुदाई थी