देहाती लड़की को सरकारी संडास में चोदा

वो बोली, हां जीजा के साथ रात में जो होता हे वो सब बताती हे मुझे.

मैंने कहा, दीदी ने भी तो मुहं में ले के देखा हे तुम भी एक बार ट्राय कर लो, अगर उलटी आये तो कभी भी मत लेना मुहं में.

वो संडास के अंदर पैर रखने के लिए ऊपर किये हुए कोंक्रिट के ऊपर अपने दोनों पैर रख के बैठ गई. और मैं दिवार के सहारे खड़ा हो गया. इस मारवाड़ी लड़की ने मेरे लंड को मुहं में लिया. और मैं स्वर्ग में घुमने लगा. उसने आधा लंड मुहं में लिया और चूसने लगी. वो चूस रही थी तो मैंने उसे कहा, देखा मैंने कहा था न की उलटी नहीं होती हे. वो हंस के लंड को मजे से चूसने लगी. करीब एक मिनिट में तो उसने पौने लंड को अपने मुहं में ले लिया था. वो जिस मजे से कोक सकिंग दे रही थी की मुझे बड़ा मजा आ गया. मैंने उसके कंधे अपने हाथ में रखे हुए थे. फिर मैंने उसके गले के हिस्से को पकड़ के जोर जोर से मुहं को चोदना चालू कर दिया.

लंड जब उसके गले तक जाता था तो ये सेक्सी लड़की ग्गग्ग्ग्ग ग्गग्ग्ग ग्गग्ग्ग की आवाज निकालती थी.

एक मिनिट मुहं की मस्त चुदाई कर के मैंने अपना माल छोड़ा. वो मुहं में वीर्य को भर के फिर थूंकने लगी. सब माल को उसने गटर में बहा दिया. मैंने अब उसे कहा, चलो अब तुम खड़ी हो जाओ मैं चाटूंगा. मैंने उसकी सलवार खोल के उसे नंगा किया. और सलवार को दरवाजे की कड़ी के ऊपर टांगा. उसने पेंटी नहीं पहनी थी. सीधे ही उसकी चूत को खोल के मैंने उसे अपनी जबान से चाटने लगा. वो अहः अह्ह्ह आह्ह्ह्ह करने लगी. तभी बहार आवाज आई. कोई आया था तो हम रुक गए. मैंने खड़े हो के उसके बूब्स को दबाये. वो सिहरने को थी तभी मैंने उसके मुहं को हाथ से दबा दिया. बहार फिर से आवाज आई. पानी से धोने की आवाज आई और फिर किसी के बहार जाने की आवाज आई. मैंने फिर से उसकी चूत को मुहं में ले लिया. और उसको मस्त चाटने लगा. ये लड़की भी अब एकदम गर्म हो गई थी. मैंने उसके चूत के दाने को मुहं से ऐसा चूसा की उसकी चूत एकदम गीली और चिकनी हो गई.

अब मैं खड़ा हुआ और उसे दिवार की तरफ मुहं कर के खड़ा कर दिया मैंने. पीछे से उसकी गांड को दबाई मैंने और एसहोल यानी की गुदा को चाटा. वो एकदम मस्ती में आ गई और बोली, चलो करो ना.

मैंने कहा, जी मेरी रानी. देखो थोडा दर्द होगा लेकिन तुम चिल्लाना मत.

वो बोली, वो मुझे पता हे.

मैं बोला, ओह!

लेकिन वो बोली, लेकिन मुझे उस दिन बड़ा मजा आया था!

मैं समझ गया की ये रंडी ही हे.

मैंने उसकी गांड को पूरा खोला और चूत के छेद को देख के उसके ऊपर सेंटर पर लंड को टिका दिया. वो बोली, सही जगह पर ही हे. मैंने उसके बूब्स को पकडे और एक धक्का मारा. वो अह्ह्हह्ह्ह्ह अह्ह्ह्हह कर गई और आधा लंड उसकी चूत में घुस गया. उसकी चूत एकदम टाईट थी और गर्म भी. मैंने बूब्स मसल के उसे थोडा और गरम किया. फिर एक धक्के में पुरे लंड को अन्दर कर दिया. वो दिवार के साथ छाती कर गई अपनी इतनी जोर का धक्का लगाया था मैंने. फिर मैंने धीरे धीरे से अपने लंड को हिलाना चालू कर दिया. वो भी अपनी कमर को मटका के गांड को उछाल रही थी. उसे भी लंड अपनी चूत में डलवा के मजा आ गया था. मैंने संडास के अंदर इस मारवाड़ी सेक्सी लड़की को मस्त १० मिनिट चोदा. और फिर उसकी चूत में ही झड भी गया. उसने लोटे से अपनी चूत को धो के साफ़ कर लिया. और फिर वो कपडे पहन के मेरे आगे निकल गई. फिर मैं पांच मिनिट के बाद वहां से निकल के अपने कमरे पर चला गया.