मामी के साथ सेक्स का फिल्मी मज़ा

फिर मैंने उनसे कहा कि मामी तुम मुझे बहुत अच्छी लगती हो, तभी वो तुरंत ही बोल पड़ी कि तुझे मेरे में क्या अच्छा लगता है मुझे बता? अब में बोला क्या बताऊँ मामी तुम सच में मुझे बहुत ही अच्छी लगती हो, तुम्हारी एक एक चीज मुझे बहुत पसंद है। फिर रात को सोते समय उन्होंने मुझसे पूछा दूध पियेगा? मैंने झट से कहा कि हाँ ज़रूर पीऊंगा, उसको पीने के लिए तो में बहुत तरसता हूँ मामी, लेकिन मेरा ताज़ा दूध पीने का मन बहुत करता है। अब वो हंसकर कहने लगी अरे शाम को ही ग्वाला ताज़ा दूध देकर गया है। फिर मैंने कहा कि वो तो शाम का बासी हो गया है आप मुझे ताज़ा दूध पिलाओगी तो में पी लूँगा। अब वो कहने लगी कि चल अब में तेरे लिए ताज़ा दूध कहाँ से आएगा? में उसी समय हंसकर बोला कि तेरे पास तो ताज़ा दूध का भंडार है ना मामी और मैंने उनके बूब्स की तरफ इशारा किया। अब वो तुरंत मेरा इशारा समझकर बोली यह तो छोटे बच्चो के लिए होता है। फिर में उनको बोला कि में भी तो बच्चा ही हूँ, वो हंसकर बोली अब तू बच्चा कहाँ है रे, अब तो तेरी शादी हो जाए तो तू बच्चों का बाप बन जाए। तभी में भी हंस पड़ा और उसी समय मामी मुझसे बोली आज बड़ी गर्मी है, में नहाकर अभी आती हूँ।

फिर उसके बाद तुम भी नहा लेना और उनके चले जाने के बाद में टीवी देखने लगा और उस समय टीवी में एक हॉट सेक्सी बिकनी शो आ रहा था, में उसको देखने लगा था। फिर कुछ देर बाद मामी नहाकर आ गयी और उसने भी मुझे टीवी पर वो नंगी नंगी लड़कियाँ देखते हुए देख लिया था, लेकिन फिर वो ना समझ बनकर मुझसे पूछने लगी कि क्यों तुम क्या देख रहे हो? अब मैंने उनको बोला मामी क्या तुमने कभी ऐसी ड्रेस पहनी है? वो हंसकर बोली हाँ एक दो बार, एक बार तेरे मामा मेरे लिए लाए थे। अब में पूछने लगा क्यों आपको वो कैसी लगी? ज़रूर आप इससे भी सुंदर लगी होगी। मैंने टीवी की तरफ इशारा कर दिया। फिर वो हंसते हुए बोली चल शैतान तू फिर से शुरू हो गया, जा तू ही नहाकर आ में उसके बाद बता दूंगी और फिर में बाथरूम से नहाकर आया और मामी ने मुझे लूँगी पहनने को दे दी। फिर मैंने भी नहाकर वो लूँगी पहन ली और उसके नीचे मैंने कुछ नहीं पहना था। मैंने अपना अंडरवियर बाथरूम में ही धोकर सुखा दिया था। फिर हम दोनों टीवी देखने लगे और मैंने कुछ देर बाद चेनल बदल दिया। उसमे एक फिल्म आ रही थी वो सेक्सी फिल्म थी। अब मैंने मामी से पूछा क्या तुमने कभी कोई सेक्सी फ़िल्म देखी है? वो बोली कि हाँ कभी कभी टीवी पर आती है तो में उसको देख लेती हूँ।

अब में पूछने लगा कि क्यों वो मस्त लगती है ना? वो मुस्करा दी। तभी उस फिल्म में राज बब्बर और ज़ीनत का बलत्कार का द्रश्य शुरू हुआ वो बड़ा ही लंबा और जबरदस्त था, ज़ीनत बाथरूम से नहाकर गाउन पहनकर बाहर निकली थी। फिर राजबब्बर ने उसके साथ बलत्कार करना शुरू किया और फिर उसने उसको बेड पर पटककर उसके दोनों हाथ पैर चारो कोनो में बाँध दिए। फिर राज बब्बर ने झटके से उसका गाउन उतार दिया और उसके साथ पूरा सेक्स और बलत्कार किया। वो बहुत लंबा द्रश्य था। अब मामी बोली राज बब्बर में बड़ी हिम्मत है जो बांधकर यह काम कर डाला, सच में बड़ा अच्छा तरीका था, किसी ने सोचा भी नहीं होगा। दोस्तों वो सब देखकर मेरा लंड अब ऊपर नीचे होने लगा था और लूँगी में लंड की हरकत बाहर से साफ नजर आ रही थी और इस द्रश्य को मामी बड़े ही ध्यान से देख रही थी उस द्रश्य को देखते हुए मैंने अपने एक हाथ को सरकाते हुए मामी की जाँघ पर रखकर चूत के पास बढ़ा दिया था। अब वो ज़ोर से बोली यह क्या है? मैंने कहा कि मामी मैंने कोई जानबूझ कर नहीं किया था। वो तो मेरा हाथ आपकी जाँघ पर अचानक ही गलती से पड़ गया। फिर वो मुझसे कहने लगी हाँ हाँ में बहुत अच्छी तरह से जानती हूँ और अब हम दोनों दोबारा देखने लगे।

फिर कुछ देर बाद मैंने चेनल बदल दिया और दूसरी फिल्म में भी किस्मत से बड़ा ही मस्त हॉट और सेक्सी द्रश्य चल रहा था। अब हम दोनों सुहागरात का द्रश्य देखने लगे थे और मैंने उसी समय अपनी मामी से पूछा क्या तुमने भी ऐसे ही मनाई थी? क्यों बताओ ना आपने कैसे किया था? वो कहने लगी चल बेशरम क्या पूछता है? में उनको बोला कि आप मुझे शुरू का ही बता दो ना, कैसे किया था प्लीज? अब वो उठी और सोफे पर घूँघट लेकर बैठ गई और बोली तुम्हारे मामा कमरे में आए, उन्हे देखकर में उठी और मैंने उनके पैर छुए। फिर उन्होंने मुझे उठाया और बोले तुम्हारी जगह मेरे पैरों में नहीं है और तभी उसी समय अचानक से मैंने वो आगे कुछ कहती उसके पहले ही अपनी मामी को उठाकर अपनी छाती से लगा लिया और कहा कि इस दिल में है और उनको अपनी बाहों में भर लिया। अब वो मुझसे दूर हटकर बोली चल अब हट जा और आगे नहीं। फिर मैंने उनको पूछा उसके आगे क्या हुआ? मामी बोली कि सारी रात सबके साथ जो होता है वही हुआ। अब में उनको बोला जैसे अभी यहाँ दिखाया था क्या वैसे ही? वो कहने लगी कि चल तेरे पास भी आगे ऐसे ही मौके शादी के बाद आएँगे, तब तुझे सब पता चल जाएगा।

Pages: 1 2 3 4 5 6

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *