मामी के साथ सेक्स का फिल्मी मज़ा

अब में उनको पूछने लगा कि आपको फिल्म कैसी लगी? वो बोली कि अच्छी थी, ज़ीनत बड़ी अच्छी लग रही थी, लेकिन वो बेचारी बँधी हुई थी। फिर में उनको बोला हाँ उसका तड़पना बड़ा अच्छा लग रहा था वो बड़ी सेक्सी लग रही थी और फिर में उनको बोला कि मामी आप भी एक बार ज़ीनत की तरह नाटक करो ना में देखना चाहता हूँ कि आप कैसी लगती हो? में तुम्हे भी वैसे ही बाँधकर देखना चाहता हूँ देखें कैसा लगता है हम और कुछ नहीं करेंगे और तुम भी सामने वाले कांच में वो सब देखना। दोस्तों पता नहीं क्यों मामी ने मेरे साथ यह काम करने के लिए हाँ भर दी और वो उसी समय बेडरूम में चली गई और फिर वो बिस्तर पर लेट गयी। उन्होंने अपनी पुरानी एक रेशमी साड़ी बाँधने के लिए पहले ही मुझे निकाल दी थी। अब मैंने पहले उनके एक एक पैर को पूरा फैलाकर पलंग के इधर और उधर पाए से और फिर उनके दोनों हाथों को भी मैंने पूरा फैलाकर बाँध दिए। दोस्तों हाथ को बाँधते समय मैंने उनके बूब्स को भी दबाया था और पैर बाँधने के समय उनकी जाँघो को सहलाया था और उनकी गुलाबी चूत देखी थी, क्योंकि उनका पेटीकोट घुटनों तक ऊपर था और उस समय मामी ऊपर से नाइट गाउन पहने हुए थी, लेकिन वो भी अब ऊपर उठ गया था। अब में उसको घूरकर देखने लगा, तभी वो मुझसे कहने लगी चल अब तू खोल दे।

फिर मैंने उनके गाउन का बेल्ट खोल दिया और गाउन को सामने से खोल दिया और वो डरते हुए मुझसे कहने लगी कि यह क्या करता है? मैंने कुछ भी नहीं सुना और देखा कि उसने अंदर ब्रा पहनी हुई थी और वो बड़े ही सेक्सी बूब्स थे उनका आकार भी ज्यादा बड़ा था, इसलिए ब्रा में वो पूरा समा भी नहीं रहे थे, जिनको देखकर मेरा मन मचल गया, में एकदम पागल हो गया। अब वो ज़ोर से चिल्लाने लगी कि तुम यह क्या कर रहे हो? मैंने कहा कि अभी तुमने ही तो खोलने के लिए बोला था। फिर वो बोली कि अरे बुद्धू मैंने तुझसे रस्सी खोलने के लिए कहा था। अब मैंने कहा कि हाँ मैंने गाउन की रस्सी ही तो खोली थी। फिर वो बोली बदमाश तू मेरी यह हाथ पैरों की रस्सी खोल दे। अब मैंने उनको कहा वाह मामी आप क्या मस्त लग रही हो और यह बोलकर मैंने उनका गाउन सामने से हटा दिया, मैंने बोला कि आप बड़ी ही मस्त लग रही हो, लो देख लो सामने कांच में और मैंने उनको कहा कि तुम्हारे सामने ज़ीनत कुछ भी नहीं है मामी तुम इस ब्रा में बहुत ही सेक्सी लग रही हो। फिर वो बोली चल अब तो खोल दे और मैंने उसी समय उनके पेटीकोट का नाड़ा खोल दिया और उसको भी उतार दिया। अब वो छटपटाने लगी। में उनको बोला कि मामी में और कुछ भी नहीं करूँगा, अब तुम देखो कैसी लग रही हो? वो बोली तू बहुत आगे बढ़ गया है अब बस कर।

loading…

दोस्तों वो अब सिर्फ़ ब्रा और पेंटी में थी और बिस्तर पर बँधी हुई मज़बूर थी, में सामने वाले कांच में देखते हुए बोला वाह आप क्या हसीन लग रही हो, देखो ना तुम्हारे यह बाहर आने को तरस रहे है में इन्हे खोल देता हूँ। दोस्तों उनके क्या मस्त बड़े एकदम गोल बूब्स थे, मैंने मौका पकड़ झट से उनके गाल पर किस कर लिया। बोला वाह यह कितने सुंदर है मामी, मुझसे अब रहा नहीं जा रहा। अब आप मुझे इनका दूध पिला दो ना, आपके यह इतने मोटे मोटे बूब्स देखकर तो मेरा मन करता है कि झट से में इनता दूध पी लूँ और इन्हे लगातार ही चूसता रहूँ। अब मामी बोली धत, वो तो छोटे बच्चे चूसते है। फिर मैंने उनको कहा कि नहीं बड़े बच्चे भी इनको चूसते है और आपने मुझे इनके दर्शन तो कराए नहीं और ना ही इसके और बात कहते हुए मैंने उनकी पेंटी पर हाथ रख दिया। अब वो मुझसे कहने लगी कि हट बदमाश इन्हे में तुम्हे कैसे दिखा सकती हूँ? मैंने कहा क्यों अभी तो और कोई भी नहीं है और सभी खिड़की दरवाजे भी बंद है प्लीज़ एक बार दिखा दो ना अपने यह मोटे मोटे बूब्स और मैंने इतना कहते हुए ही ब्रा को खोल दिया और फिर उनके बूब्स उछलकर बाहर आ गए। अब वो ज़ोर से चिल्लाई बोली तू यह क्या करता है? फिर मैंने उनको बोला कि अब चिल्लाने से कुछ नहीं होगा और बाहर पड़ोसियों को पता चलेगा तो तेरी ही बदनामी होगी बोले तो में सारी खिड़की दरवाजे खोल दूँ।

अब वो नरम हो गई और में उसको बोला कि थोड़ी सी मस्ती दे दो ना और अब मेरा लंड पूरा तनकर ऊपर नीचे हो रहा था। अब मैंने उनके बूब्स को दबा दबाकर चूसना शुरू किया और बँधी होने की वजह से वो कुछ कर नहीं सकती थी और आज मेरे मन की इच्छा पूरी हो रही थी। दोस्तों उसका बदन बहुत ही गजब का था एकदम मुलायम चिकना, मुझे उसको सहलाने में बहुत मज़ा आ रहा था और अब में बारी बारी से दोनों बूब्स को ज़ोर ज़ोर से चूसने लगा था और वो भी अहह्ह्ह्ह उहहह्ह्ह्ह करने लगी। अब में उनके ऊपर लेटकर कभी बूब्स को चूसता तो कभी उनके होंठो को, मुझे ऐसा करने में बड़ा मज़ा आ रहा था, जिसकी वजह से मुझे एक नशा सा छा रहा था और मुझसे अब रहा नहीं जा रहा था। फिर मैंने पेंटी के ऊपर से उनकी चूत पर अपने लंड को दबा दिया, में बोला इस प्यारी सी चीज के भी दर्शन करा दो ना। अब वो बोली क्या मतलब? मैंने चूमते हुए कहा अपनी यह प्यारी सी चूत दिखा दो ना मामी। फिर वो कहने लगी तू तो बहुत ही गंदी बातें करता है। अब में बोला अभी उस फिल्म में तो आपको मज़ा आ रहा था, मामी बोलो ना क्या करूँ और आगे वाला काम भी निपटा ही लेते है, आप जो कहोगी में वो करूँगा बस आप दिखा दीजिए और फिर मैंने उनकी पेंटी को नीचे सरका दिया।